0

Happy Friendship Day Quotes in Hindi

Friendship Day Quotes in Hindi 2017: Hello Friends, After Friendship Day Wishes in Hindi, Today We are going to Share Friendship Day Quotes in Hindi 2017 with You. We have added a Latest Collection of Friendship Day Quotes in Hindi 2017 for You. Check out the Collection of Friendship Day Quotes in Hindi 2017 for You.

Happy Friendship Day Quotes in Hindi 2017

दिल से दिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं! तुफानो में साहिल बड़ी मुश्किल से मिलते हैं!
यूँ तो मिल जाता है हर कोई! मगर आप जैसे दोस्त नसीब वालों को मिलते हैं! 
रिश्तों में प्यार की मिठास रहे, कभी न मिटने वाला एहसास रहे,
कहने को तो छोटी सी है ये ज़िन्दगी, लम्बी हो जाएगी, अगर आप जैसे प्यारे दोस्त का साथ रहें| 
क्या इतना ही प्यार था हम सब में यारों,
की साथ बैठना छूट गया तो याद करना भी छोड़ दिया आपने. 

Best Dosti Quotes in Hindi

अच्छा दोस्त एक फूल की तरह होता है, जिसे हम छोड़ भी नहीं सकते और
तोड़ भी नहीं सकते, तोड़ दिया तो मुरझा जाएंगे और छोड़ दिया तो कोई और ले जाएगा. 
दोस्ती इन्सान की ज़रुरत है!दिलों पर दोस्ती की हुकुमत है!
आपके प्यार की वजह से जिंदा हूँ!वरना खुदा को भी हमारी ज़रुरत है! 

***** Friendship Day Quotes in Hindi *****

मैं भूला नहीं हूँ किसी को, मेरे बहुत कम दोस्त है ज़माने में,
बस थोड़ी जिंदगी उलझी पड़ी है 2 वक़्त की रोटी कमाने में.

करनी है खुदा से गुजारिश, तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,
हर जनम में मिले दोस्त तेरे जैसा, या फिर कभी जिंदगी न मिले. 
KaBhi DIL Ki KAMJORI BaNKAR ReH JaTi Hai,
KaBhi WAQT ki MaJBooRI BaNKaR ReH JaTi Hai,
Ye Dosti WO WATER Hai,
JiTNa Piyo PYAAS ADHURI Hi ReH JaTi Hai. 
Din Aate Hain, Din Jaate Hain
Kuch Lamhe Aap Ke Bin Guzar Nahi Paate Hain
Inhi Lamho Ko Samet Kar Dekhu To
Aap Jaise Dost Bahut Yaad Aate Hain.
Happy Friendship Day ! 
आसमान हमसे नाराज़ है.
तारों का गुस्सा भी बेहिसाब है.
मुझसे जलते हैं ये सब क्योकि
चाँद से बेहतर दोस्त जो मेरेसाथ है. 
कभी अनकही बातों की अदा है दोस्ती,
कभी गम की दवा है दोस्ती,
कमी है पूजने वालों की,
वरना ज़मीन पर खुदा है दोस्ती. 
दोस्ती मौसम नही जो अपनी मुद्दत पूरी करे और रुखसत हो जाय,
दोस्ती फूल नही जो खिले और मुरझा जाय,
दोस्ती तो सांस हे जो चले तू सूब कुछ हे.
जो टूटे तो कुछ भी नहीं 
Jitne Hain Aasman Mein Sitare, Utni Zindagi Ho Teri,
Kisi Ki Buri Nazar Na Lage, Har Kaamyabi Kadam Chumein Teri,
Aaj Din Hai Dosti Ka, Aaj Yahi Dua Hai Meri,
Tu Sada Khush Rahe Ye Hee Iltiza Hai Meri….
Happy Friendship Day !! 
दोस्ती में ना कोई वार, ना कोई दिन होता हैं,
ये तो वो एहसास है जिसमे बस यार होता हैं| 
Kabhi kabhi dosti me b duriya aa jati h
Phir b succhi dosti dilo ko milati hain..
Voh dost hi kya jo kabhi naraj na ho….
Par succhi dosti hi dosto ko manati hai 
दोस्त दिल की हर बात समझ जाया करते हैं
सुख दुःख के हर पल में साथ हुआ करते है
दोस्त तो मिला करते है तक़दीर वालो को
मिले ऐसी तक़दीर हर बार हम दुआ करते है 
Kyun muskilo mein sath dete hain dost
Kyun gumo ko baant lete hain dost……
Na rishta khun ka, na hi riwaz se bandha
Fir bhi Zindagi bhar ka sath dete hai dost 
Aksar jimmedariya majbur kar deti h apna shehar chodne ko
Varna kon bachpan k sathi aur apno k bina jeena nahi chahta 

Yar se aisi yari rakh, har dukh me uske tu bhagidaari rakh
Logo ki parwah chhod, tu to bas apni har zimmedari rakh

Samay pade kaam aane ka, tu phle apni baari rakh
Musibaate aayegi bahut, tu puri apni tyari toh rakh

Kamyabi mile na mile, tu Jang apne hoslo ki jaari rakh

Bojh lagne lgenge sb halke, tu mann ko mat bhari rakh
Mann jeeta toh jag jeeta, tu kayam apni khudari rakh

Dost dil ki har baat samajh jaya karte h,
Dukh sukh k har pal mein sath hua karte h
Dost toh mila karte hain taqdeer walo ko,
Mile aisi taqdeer hr bar hume dua karte h 
Dosti yaari ab sab kuch sapna sa lagta hain
Ab toh kon kaha kissi ko apna sa lagta hain
Lutf uthaya karte the zindagi ki ranginiyo ka
Kal kya hoga uski kaha parwah kiya krte the
The begane se har aanewale kal ki tanhaiyo se
Choti-2 khushiyo me ek umar ko jee liya krte the 
क्यूँ मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त
क्यूँ गम को बाँट लेते हैं दोस्त,
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है,
फिर भी ज़िन्दगी भर साथ देते हैं दोस्त 
Dosti mein duriyaan toh aati jaati rehti hain,
Fir bhi dosti dilon ko milati rehti hain,
Woh dost hi kya jo naaraz na ho,
Par sachchi dosti doston ko manati rehti hain 
Ek tamanna thi jo hasrat ban gayi,
Kbhi dosti thi ab mohabbat ban gayi,
Kuch is tarha shamil hue tum zindagi me
Tujhe sochtey rehna meri adat ban gayi.. 
Hamari dosti ki umar hum se bhi zyada hogi,
Tumhari har aawaz hamare liye wada hogi
Tum bhi sun lo kaan khol key,
Jisne dosti pehle tori uski pitai b sbse zyada hogi 
Na jaane kyun mein tujh se kuch zyada rootha karti hoon,
Teri doori seh jaaye is ke liye dil ko apne manaya karti hoon
Kabhi to tujhe jaise bahut hi bura keh leti hoon, per dost jab
Teri dosti ki misaale yad aati hai tujhe duaein diya krti hoon. 
Teri dosti mein khud ko mehfooz maante hain,
Hum doston me tumhe sabse azeez maante hai.
Teri dosti ke saaye mein zinda hain,
Hm to tujhe khuda ka diya hua tabeez mante hai. 
कौन कहता है कि दोस्ती बराबरी में होती है
सच तो ये है दोस्ती में सब बराबर होते है..!! 
किस हद तक जाना है ये कौन जानता है,
किस मंजिल को पाना है ये कौन जानता है,
दोस्ती के दो पल जी भर के जी लो,
किस रोज़ बिछड जाना है ये कौन जानता है.! 
शायद फिर वो तक़दीर मिल जाये
जीवन के वो हसीं पल मिल जाये
चल फिर से बैठें वो क्लास कि लास्ट बैंच पे
शायद फिर से वो पुराने दोस्त मिल जाएँ । 

लोग कहते हैं ज़मीं पर किसी को खुदा नहीं मिलता,
शायद उन लोगों को दोस्त कोई तुम-सा नहीं मिलता……!!

किस्मतवालों को ही मिलती है पनाह किसी के दिल में,
यूं हर शख़्स को तो जन्नत का पता नहीं मिलता……….!!

अपने सायें से भी ज़यादा यकीं है मुझे तुम पर,
अंधेरों में तुम तो मिल जाते हो, साया नहीं मिलता……..!!

इस बेवफ़ा ज़िन्दगी से शायद मुझे इतनी मोहब्बत ना होती
अगर इस ज़िंदगी में दोस्त कोई तुम जैसा नहीं मिलता…!!

Dosti ki kahani ab humari khatam ho gayi,
Khusiya aayi aakar jane kahan chali gayi,
Bada naaz tha hume apni dosti par sayad
Kismat buri thi ya phir kisi ki najar lag gayi 

Aasman se utari hain, taaron se sajai hai
Chaand ki chandni se nehlayi hain,
Aye dost, Sambhal ke rakhna ye dosti,
Yahi to humari zindagi bhar ki kamayi hai

Happy Friendship Day

Duniya se mile gum to bahut hain
En mile gamo se ankhe num to bahut h
Kab ke marr jaate en gamo ko sehkar
Par dosto ki duaaon me dum bhi bhut h 
Kash phir milaney ki wo wajah mil jaye,
Saath jitna bhi bitaya wo pal mil jaye,
Chalo apni apni aankhey band kar le,
Kya pta khwabo m gujra hua kal mil jaye 
Gunaah kar ke saja se darte hain,
Zahar pee ke dawa se darte hain,
Dusmano k sitam ka khof nahi hume
Hum to dosto k khafa hone se darte h 
Faansle hote huye bhi manzil vahi rahegi
Faansle hote huye bhi dostana vahi rahega
Bahot mushkil he ye safar zindagi ka,
Agar apka sath hoga to ehsaas vahi rahega 
Anjaan ki tarah mile aur ulfat ho gayi
Ajnabi dost aise mile ki dosti ho gayi
Sacchi dosti ka irada tha unse,
Par hume unse sachi mohabbat ho gayi 
Waqt ke sath hum bhi bikhar jayenge,
Kise pata hum kidhar kidhar jayenge,
Par hum dosti ki woh parchayi hain,
Jaha ap hue tanha wahi hum najar ayenge 
Kuch log zindagi me es kadar shamil ho jate h
Unhe bhulna chaho to aur b jyada yaad aate h
Bas jate hain wo dilo mein es kadar,
Aankhe band bhi karo toh samne najar aate h 

 

Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *